ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
आपकी बात -
April 14, 2020 • Naresh Rohila • सप्तरंग

कोरोना वायरस से बचाव के लिए 21 दिन का लाॕकडाउन आज समाप्त हो रहा है लेकिन इससे पहले ही लाॕकडाउन को 19 दिन और बढा दिया गया | आज प्रधानमंत्री ने लाकडाउन 2 की घोषणा की | अब 3 मई तक देशबन्दी रहेगी | इसी विषय पर भारतनमन ने समाज के कुछ लोगों से बात की | अलग अलग विचार के बावजूद लाॕकडाउन पर सभी का एकमत दिखा कि महामारी से बचने के लिए यही विकल्प है| इसलिए लाॕकडाउन को बढाया जाना आवश्यक है |देश के प्रधानमंत्री ने बिल्कुल उचित किया है | आईये जाने किसने क्या कहा-

दवा और चिकित्सा उपकरण बेचने वाले व्यवसायी सरयू जिंदल का कहना है कि लाॕकडाउन का बढना आवश्यक है | प्रधानमंत्री ने ऐसा करके बिल्कुल ठीक कदम उठाया है | सरयू का कहना है कि कुछ दिक्कतें है लेकिन यदि बीमारी से मर गये तो क्या करेंगे | अत: लाॕकडाउन बढाना सही है |

वित्तीय मामलों के एक्सपर्ट  एडवोकेट तरूण गुप्ता ने भी माना कि लाॕकडाउन बढना जरूरी था | अमेरिका में कोरोना संक्रमण की सही तस्वीर तीसरे माह में उभर कर आयी |यहां समय से लाॕकडाउन होने से काफी कन्ट्रोल है | अभी खोल देते तो संक्रमण के अधिक बढने की आशंका थी | संक्रमण पूरी तरह नियंत्रित हो जाये तभी खोला जाना चाहिए | 

कांग्रेस प्रदेश सचिव और एक अंग्रेजी स्कूल में हिन्दी की शिक्षिका श्रीमती मंजू त्रिपाठी ने भी लाॕकडाउन बढाने के प्रधानमंत्री के कदम को ठीक बताया | कहा कि देश को महामारी से बचाना है | उन्होंने कहा कि इसके साथ ही कुछ और कदम सरकार को उठाने चाहिए | बने बनाये भोजन की आनलाइन डिलीवरी को भी रोका जाना चाहिए | जो लोग मंगा रहे हैं वे सक्षम हैं घर में भी हाइजैनिक भोजन बनवा सकते है | बाहर से मंगवाये जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की गारंटी नहीं है | मजदूरों की समस्या कायम है | लोग फंसे हुए है | सरकार ने गुजरात के मजदूरों को तो निकालकर भेज दिया लेकिन अभी बहुत राज्यों में ऐसे मजदूर फंसे है | सरकार को सौतेला बर्ताव नहीं करना चाहिए |

महिला कांग्रेस की महानगर अध्यक्ष कमलेश रमन कहती हैं लाकडाउन जनहित में है | सही है अगर इसे 3 मई तक बढाया गया है | हम देश के साथ हैं , प्रधानमंत्री के साथ हैं |

पेशे से एडवोकेट अनुराग सिंह का कहना है कि लाकडाउन बढाना उचित है |लोगों की सुरक्षा के लिए सरकार का यह सही निर्णय है |

हरियाणा के सोनीपत से कवयित्री और शिक्षिका सुशीला रोहिला भी लाकडाउन बढाने के पक्ष में है | वे महाभारत के एक प्रसंग का उल्लेख करते हुए कहती हैं जब शकुनि ने पांडवों के विरूद्ध लाक्षागृह का पडयंत्र रचा, तब विदुर ने पांडवों से पूछा कि जंगल की आग में कौन सुरक्षित रह सकता है | युधिष्ठिर ने उत्तर दिया कि बिल में रहने वाला  चूहा | इसी तरह आज हमें भी कोरोना महामारी से घर रूपी बिल में रहकर अपनी, परिजनों और प्रकृति की रक्षा करनी है| धैर्य,संयम और अनुशासन की नीति से कोरोना रूपी दैत्य पर विजय हासिल करनी है|

अखिल भारतीय रोहिला क्षत्रिय विकास परिषद के अध्यक्ष डा.धर्मपाल रोहिला, महामंत्री कुलदीप सिह रोहिला और मीडिया प्रभारी समय सिंह पुण्डीर ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लाकडाउन को 3 मई तक बढाने के निर्णय को

सही बताया | इन तीनों का मानना है कि वर्तमान में यह निर्णय अतिआवश्यक था क्योंकि अभी कोरोना संक्रमित लोगों का ग्राफ बढता जा रहा है |

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जीवन के जो 7 सूत्र बताये हैं ,सभी लोगों को उनका कडाई से पालन करना चाहिए |