ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
अपने प्लाट पर दूसरे का मकान, धोखे का शिकार महिला ने कराया प्रोपर्टी डीलरों पर मुकदमा
September 1, 2020 • Naresh Rohila • क्राइम

हरिद्वार संवाददाता /हरिद्वार। कनखल पुलिस ने दो प्राॅपटी डीलर के खिलाफ एक महिला ने धोखाधडी का मुकदमा दर्ज किया है। आरोप है कि दो प्रॉपर्टी डीलरों ने जगजीतपुर में एक प्लॉट दो खरीददारों को बेच डाला। जमीन के इस खेल में 8.38 लाख रुपये की धोखाधड़ी का शिकार हुई महिला ने दोनों प्रॉपर्टी डीलरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने प्रॉपर्टी डीलरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। लालजीवाला वीआइपी घाट निवासी बीना पत्नी स्व. रामकुमार ने तहरीर देकर बताया कि आठ फरवरी 2016 को उन्होंने प्रॉपर्टी डीलर अरुण वालिया और अतुल शर्मा से जगजीतपुर में एक प्लॉट 8.38 लाख रुपये में खरीदा था। कुछ दिन पहले इलाज के लिए पैसे की जरूरत पड़ी तो उन्होंने अपना प्लॉट यशवंत सिंह को बेचना चाहा। वह यशवंत को लेकर जगजीतपुर पहुंची तो उनकी जमीन पर एक मकान बना हुआ मिला। अपनी जमीन पर किसी अजनबी व्यक्ति का मकान बना देख उनके होश उड़ गए। पूछने पर मकान मालिक ने बताया कि उसने यह मकान इंद्रेश गौड निवासी हरिराम आश्रम व मनीष चौहान निवासी बागपत से खरीदा है। तब महिला ने रजिस्ट्रार कार्यालय पहुंचकर जानकारी ली। तब पता चला कि प्रॉपर्टी डीलर अरुण वालिया और अरुण शर्मा ने फरवरी 2016 में 8.38 लाख रुपये में प्लॉट उन्हें बेचा। कुछ दिन बाद पांच अक्टूबर 2016 को 13.18 लाख रुपये में यही प्लॉट इंद्रेश और मनीष चौहान को बेची दिया। महिला अपनी रकम लेने के लिए प्रॉपर्टी डीलरों के पास पहुंची। आरोप है कि अरुण और अतुल ने पीड़िता के साथ गाली-गलौज करते हुए बेटे सहित जान से मारने की धमकी दी। कनखल थानाध्यक्ष प्रकाश पोखरियाल ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर प्रॉपर्टी डीलरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।