ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
बनभूलपुरा में 5 कोरोना पाजीटिव मिलने से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड में
April 6, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

डीएम ने क्षेत्र के लोगों के परीक्षण को 10 विशेष टीमें भेजी गयी

भारत नमन ब्यूरो /हल्द्वानी ,6 अप्रैल  |  विगत 4 अप्रैल को बन बनभूलपुरा क्षेत्र मे 5 कोरोना पाॅजेटिव केस मिलने से प्रशासन एवं स्वास्थ्य महकमा अलर्ट हो गया है। संवदेनशीलता को दृष्टिगत रखते हुये जिलाधिकारी  सविन बंसल ने चिकित्साधिकारियों, फार्मेसिस्टों,आशा कार्यकत्रीयों की 10 विशेष टीमें बनभूलपुरा क्षेत्र के लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करने सोमवार की सुबह एसीएमओ डा0 रश्मि पंत के नेतृत्व में भेजी। इन टीमों में डा0 अलका गुप्ता,डा0 रोली जोशी,डा0 मुकेश आर्या,डा0 पंकज कुमार वर्मा, डा0 दीप्ति वर्मा,डा0 रजनी भटट,डा0 प्रीति टोलिया,डा0 लता पंत,डा0 भावना जोशी के अलावा फार्मेसिस्ट बिरेल रावल, भूवन चन्द्र,चंचल नबियाल,इस्तुती रौतेला, अमित मैथाणी, देवेन्द्र बिष्ट, रेनु रावत, चन्द्रशेखर तथा शिव प्रसाद भटट ने डा0 रश्मि पंत के नेतृत्व में स्वास्थ्य परीक्षण किया। 
 गौरतलब है कि बनभूलपुरा मे संकमण रोकने तथा 5 पाॅजेटिव केस मिलने के बाद सम्बन्धित क्षेत्र को जिला प्रशासन ने तीन दिन सामुदायिक निगरानी काॅनटैक्ट ट्रैकिंग तथा सम्बन्धित क्षेत्र मे यातायात के साथ ही बाहर से आने वालों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। जिला प्रशासन के संज्ञान मे आया है कि कोरोना वायरस से पाॅजेटिव इन व्यक्तियों द्वारा इस क्षेत्र के अन्य लोगों से भी सम्पर्क किया गया है। इसलिए यहां पर कोरोना वायरस के संक्रमण की सम्भावना बढ गयी है। इसलिए बनभूलपुरा क्षेत्र के वाशिन्दों की सुरक्षा के लिए सुरक्षात्मक कदम उठाना जरूरी हो गया है। इसलिए युद्व स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है तथा अगले तीन दिनों तक बाहर से आने वाले लोगों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा तथा क्षेत्र के लोग सामुदायिक निगरानी मे रहेंगे। 

 एसीएमओ डा0 रश्मि पंत ने बताया कि डाक्टरों की 4 टीमों ने लाईन न0-16, 17 तथा आजाद नगर से लेकर जीआईसी बनभूलपुरा तक लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जबकि डाक्टरों की 6 टीमों द्वारा बनभूलपुरा की नई बस्ती और मलिका का बगीचा क्षेत्र मे परीक्षण किया गया। डाक्टर पंत ने बताया कि सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की 10 टीमों ने प्रभावित क्षेत्र के 385 परिवारों के 2136 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। ज्यादातर खांसी और बुखार से सम्बन्धित लोग मिले कोरोना वायरस का लक्षण नही पाया गया, आगे भी स्वास्थ्य परीक्षण जारी रहेगा।