ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
चकराता के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भाजपा छोड़कर ली कांग्रेस की सदस्यता
October 6, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

बीजेपी सरकार ने किया जनता को निराश : प्रीतम सिंह 

त्रिवेन्द्र सरकार से परेशान जनता कांग्रेस की ओर आशा भरी नजरों से देख रही:धस्माना 

 भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। भारतीय जनता पार्टी की त्रिवेंद्र सरकार ने अपने पौने चार साल के कार्यकाल में प्रदेश की जनता को पूरी तरह से निराश किया है और आने वाले समय में वही जनता जिसने 57 विधायकों को जिता कर 2017 में राज्य में बीजेपी की प्रचंड बहुमत वाली सरकार बनाई थी इनको बाहर का रास्ता दिखाएगी।

यह बात आज उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कांग्रेस मुख्यालय में चकराता विकास खण्ड की ब्लॉक प्रमुख निधि राणा की प्रेरणा से बीजेपी छोड़ कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करने के लिए पीसीसी द्वारा आयोजित कार्यक्रम में नवागंतुको का स्वागत करते हुए कही। उन्होंने कहा कि राज्य में आज भाजपा सरकार की अकर्मण्यता से हर वर्ग परेशान है, उन्होंने कहा कि विकास दूर दूर तक कहीं दिखाई नहीं पड़ रहा और राज्य में बेरोजगारी अपने चरम पर है और सरकार चैन की नींद सो रही है।

प्रीतम सिंह ने कहा कि राज्य बनने के बाद पहली बार किसानों ने  सरकार की उपेक्षा व कर्ज़ के कारण के कारण आत्महत्या की। उन्होंने कहा कि अब तक के त्रिवेंद्र सरकार के कार्यकाल में किसी भी सरकारी विभाग में भर्ती प्रक्रिया शुरू नही हुई।

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि आज त्रिवेंद्र सरकार से परेशान प्रदेश की जनता कांग्रेस की ओर आशा भरी निगाह से देख रही है और 2022 में प्रदेश में एक बार फिर कांग्रेस की सरकार गठित होगी। इस अवसर पर चकराता विकाज़ खंड की प्रमुख निधि राणा ने कांग्रेस में शामिल हुए क्षेत्रवासियों का स्वागत किया।

कांग्रेस में शामिल होने वाले प्रमुख लोगों में

ग्राम कावाखेड़ा

पं शोवराम शर्मा, प्रवीण वर्मा,

ग्राम तीलूरखेड़ा

केशवराम गौड़, सोयराम गौड़, मंगतराम गौड़

ग्राम रजाणु

परमानन्द पांडेय, प्रदीप पांडेय, महावीर पांडेय, पंकज पांडेय, फकीरा पांडेय, कमालु रांटा, जेठू रांटा, कलिया रांटा, पप्पू रांटा

ग्राम डुंगरी

ज्ञान सिंह चौहान, कलम सिंह, केवल सिंह, मलिक राम उनियाल

ग्राम मझगांव

मायाराम, गुरुदेव सिंह, अमित, सुनील, कुंदन, लेवरू, छानु दास, रमेश, प्रीतम आदि थे।