ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
चिकित्सा,स्वास्थ्य विभाग ने क्यों दिया disinfection tunnels न लगाने का निर्देश👉जरूर पढ़ें
April 12, 2020 • Naresh Rohila • हेल्थ

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून | उत्तराखण्ड स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वायरस संक्रमण नियंत्रण के लिए टनल न लगाये जाने के निर्देश सभी जिलाधिकारियों और मुख्‍य चिकित्सा अधिकारियों को दिये हैं | उत्तराखण्ड चिकित्सा,स्वास्थ्य विभाग के अपर सचिव युगल किशोर पन्त ने सभी जिलाधिकारियों, मुख्‍य चिकित्सा अधिकारियों को भेजे पत्र में कहा है कि कोविड- 19 के संक्रमण के दौरान कतिपय सार्वजनिक स्थानों सब्जी मण्डी में ( disinfection tunnels, spraying  or alcohal, chlorine, lyzol )से संबंधित गतिविधियां किये जाने की जानकारी प्राप्त हो रही है,|  अपर सचिव के अनुसार कहा गया कि इस बारे विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी एडवाइजरी का संज्ञान लेते हुए अवगत कराना है कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए ऐसे उपायों का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है | संक्रमण नियंत्रण के लिए  ऐसे उपाय  भारत सरकार की निर्धारित गाइडलाइन के अनुसार भी नहीं है| इसलिए संक्रमण नियंत्रण को ऐसी टनल न लगायी जाये और क्लोरीन, एल्कोहल, लाइजोल जैसै पदार्थों के हानिकारक प्रभावों के अन्तर्गत इनका उपयोग भी न किया जाये | अपर सचिव चिकित्सा, स्वास्थ्य ने सभी जिलाधिकारियों, मुख्‍य चिकित्सा अधिकारियों से कहा है कि उक्त एडवाइजरी के अनुसार सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया जाये| 

इसके साथ ही आपको बता दें कि इसी बारे में निदेशक पब्लिक हैल्थ एवं प्रिवेन्टिव मेडिशन , चेन्नई के कार्यालय की ओर से भी ऐसा ही कहा गया है | निदेशक की ओर से स्वास्थ्य सेवाओं के सभी डिप्टी डायरेक्टरों को एक सर्कुलर के माध्यम से कोविड-19 के नियंत्रण के लिए ऐसे उपायों को नाकाफी बताया गया है और कहा गया है कि ऐसे उपायों से लोग संक्रमण से बचाव के लिए आवश्यक हैंडवाश( साबुन से हाथ धोने ) से डायवर्ट हो रहे हैं|