ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
एमआईटी ढालवाला में राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन
May 17, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

एसके विरमानी द्वारा /ऋषिकेश | एमआईटी ढालवाला में हुआ राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन राष्ट्रीय स्तर के आयोजन में जहां देश एवं विश्व भर में  वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के कारण शिक्षण संस्थाएं नियमित रूप से संचालित नहीं हो पा रही है लेकिन ऐसी विकट स्थितियों में भी राष्ट्र की कुछ अग्रणी शिक्षण संस्थाएं तकनीकी का प्रयोग कर छात्रों तक उनके पाठ्यक्रमों को उपलब्ध करा रही है | इसी कड़ी में प्रदेश के प्रतिष्ठित संस्थान एमआइटी ढालवाला में आज राष्ट्रीय स्तर पर वेबीनार का आयोजित किया गया  जिसका मुख्य शीर्षक "ऑनलाइन लर्निंग ड्यूरिंग एंड आफ्टर पेंडविक कोविड-19" रखा गया।

 वेबीनार का मुख्य उद्देश्य शिक्षा जगत में जुड़े सभी छात्रों एवं प्राध्यापकों तक यह संदेश पहुंचाना था कि  कोरोना वायरस के समय एवं इसके उपरांत हम किस प्रकार तकनीकी साधनों मोबाइल कंप्यूटर लैपटॉप इत्यादि उपकरणों का सदुपयोग कर अपने शैक्षिक कार्यक्रम को सुचारू रख सकते हैं।कार्यक्रम का शुभारंभ संस्थान के सचिव हरगोविंद जुयाल एवं संस्थान के निदेशक रवि जुयाल द्वारा सभी प्रतिभागियों का स्वागत कर एवं मां वदे भारती का स्मरण कर किया  गया | संस्थान के सचिव श्री जुयाल ने बताया कि संस्थान सदैव अपनी प्रौद्योगिकी एवं तकनीकी का उपयोग छात्र एवं समाज हित में करता रहा है | इस वेबीनार में भी लगभग 500 प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए यह आश्वस्त किया जा रहा है कि किसी भी आपातकालीन संकट की घड़ी में संस्थान सदैव शिक्षा जगत में न केवल राज्य अपितु राष्ट्र स्तर पर भी अपने दायित्वों का निर्वहन कर अपनी अग्रणी भूमिका का निर्वहन करता रहेगा।

प्रतिभागियों के स्वागत उपरांत  मुख्य अतिथि पूर्व उच्च शिक्षा निदेशक उत्तराखंड शासन एनपी महेश्वरी ने अपने विचार रखते हुए ऑनलाइन लर्निंग के अनेक उपयोग और उसके  लाभों के बताया | उन्होंने अपने निजी अनुभव को साझा करते हुए कहा कि  केवल ऑनलाइन लर्निंग ही वर्तमान में परिस्थितियों में न केवल देश अपितु बल्कि संपूर्ण विश्व की आवश्यकता है।उन्होंने तकनीकी संसाधनों की उत्तराखंड राज्य में वर्तमान स्थिति को स्पष्ट करते हुए बताया कि लगभग 60000  उच्च शिक्षा के विद्यार्थी है।ललित मोहन शर्मा पीजी कॉलेज ऋषिकेश के एमएलटी विभागाध्यक्ष प्रोफेसर ढींगरा ने ऑनलाइन लर्निंग के लिए स्वयंप्रथा,शोधगंगा,ज्ञान गंगा जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की विस्तृत जानकारी साझा की।