ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
हरिद्वार के प्रमुख संतों ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र से मुलाकात की
September 28, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

हरिद्वार में संतों के आश्रम का पंजीकरण व बिजली बिल कमर्शियल करने पर आपत्ति जताई 

कुंभ में व्यवस्था अनुसार संत सरकार का सहयोग करेंगे

सीएम ने संतों की समस्याओं के समाधान को कार्रवाई का आश्वासन दिया 

bharatnaman.page /देहरादून। मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र रावत से मुख्यमंत्री आवास में श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा के वरिष्ठ महामंडलेश्वर स्वामी यतीन्द्रानन्द गिरि जी महाराज के नेतृत्व में हरिद्वार के प्रमुख संतों ने भेंट की। भेंट करने वाले संतों में निर्मल आश्रम के श्री महंत जसजीत जी, गरीबदास जी,  महंत आनंद, वाल्मीकि समाज के संत श्री महंत मान दास जी महाराज, वैष्णव अखाड़े से श्री महंत दुर्गा दास जी महाराज एवं नगर के प्रसिद्ध एडवोकेट श्रेयस अग्रवाल थे। संतो ने हरिद्वार नगर में संतों के आश्रम का पंजीकरण कमर्शियल किए जाने पर अपनी आपत्ति दर्ज की। बिजली के बिल भी कमर्शियल आने पर मुख्यमंत्री  से अपनी बात रखी।

  मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने संतो को आश्वासन दिया और तुरंत कार्रवाई का निर्देश भी दिया। संतों ने कहा आगामी कुंभ में जिस प्रकार की भी व्यवस्था और परिस्थिति होगी, सन्त सरकार का भरपूर सहयोग करेंगे। कुंभ हमारी प्राचीन परंपरा है किंतु कोरोना महामारी के चलते हुए जैसी भी स्थिति होगी उसी प्रकार से सभी संत और अखाड़े सरकार का सहयोग करेंगे। महामंडलेश्वर स्वामी यतीन्द्रानन्द गिरी जी ने केदारनाथ मॉडल पर ही बद्रीनाथ गंगोत्री एवं यमुनोत्री धाम के विकास हेतु प्रयासरत मुख्यमंत्री की प्रशंसा की। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि देवस्थानम बोर्ड के तहत स्थानीय पुरोहित समाज के हितों का पूरा ध्यान रखा गया है। सभी संतो ने मुख्यमंत्री जी को स्वस्थ और दीर्घायु होने का आशीर्वाद दिया।