ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
कहर बरपा रहा कोरोना, 874 नये मरीज, मुख्यमंत्री के ओएसडी का निधन
September 22, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। कोरोना का कहर थम नहीं रहा। मंगलवार को जहां कोरोना संक्रमण के कारण मुख्यमंत्री के ओएसडी गोपाल रावत का निधन हो गया वहीं राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत, विधानसभा में विपक्ष के उपनेता करन माहरा भी कोरोना पाजीटिव आये। राज्य में आज 874 लोगों की रिपोर्ट पाजीटिव आयी जिनमें सबसे ज्यादा 368 केस देहरादून जनपद में आये। कल से शुरू हो रहा विधानसभा का एक दिवसीय मानसून सत्र कोरोना संक्रमित होने की वजह से विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल की अनुपस्थिति में ही चलेगा।

स्टेट कोरोना कन्ट्रोल रूम कोविड 19 के हैल्थ बुलेटिन के अनुसार आज प्रदेशभर में 874 लोगों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पाजीटिव आयी। देहरादून जनपद में सबसे ज्यादा 368 लोगों की रिपोर्ट पाजीटिव आयी जबकि दूसरा नंबर उधमसिंह नगर का रहा। वहां 158 कोरोना मरीज आये।

मुख्यमंत्री के ओएसडी गोपाल रावत का निधन

आज दु:खद और चिंता की खबर यह रही कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के ओएसडी गोपाल रावत का निधन हो गया। वे कोरोना संक्रमित थे।कुछ दिन पूर्व मुख्यमंत्री के ओएसडी उर्वादत्त की पत्नी की कोरोना के कारण मृत्यु हो गयी थी। 

सीएम त्रिवेन्द्र ने कहा, मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति  

मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने विशेष कार्याधिकारी  गोपाल रावत के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि  गोपाल रावत जी का निधन, मेरे लिए बड़ी व्यक्तिगत क्षति है। वे एक कुशल और योग्य अधिकारी थे। परमपिता परमेश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें और शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करें।  गोपाल रावत  के परिजनों के साथ मेरी गहरी संवेदनाएं हैं।"

विधानसभा अध्यक्ष ने भी शोक जताया

विधानसभा अध्यक्ष  प्रेमचंद अग्रवाल  ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत  के विशेष कार्याधिकारी गोपाल सिंह रावत के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया । श्री अग्रवाल ने अपने शोक संदेश में कहा है कि गोपाल रावत कई दिनों से कोरोना संक्रमण से पीड़ित थे वह उपचार करा रहे थे आखिर वह कोरोना की जंग हार गए । उन्होंने गोपाल रावत के निधन को अपूरणीय क्षति बताया।

विधानसभा अध्यक्ष की अनुपस्थिति में शुरू होगा सत्र

दूसरी ओर कल  23 सितंबर से प्रारंभ होने वाले विधानसभा के मानसून सत्र से पूर्व कोरोना पॉजिटिव आने के कारण विधानसभा अध्यक्ष  प्रेम चंद अग्रवाल जी सदन में उपस्थित नहीं हो पाएंगे इसलिए आज विधानसभा अध्यक्ष  प्रेमचंद अग्रवाल  ने सत्ता पक्ष व विपक्ष के सभी विधायकों से अपील करते हुए कहा है कि सदन को शांतिपूर्ण तरीके एवं संवैधानिक मर्यादाओं के अंतर्गत संपन्न कराने में सभी को सहयोग करना चाहिए l

      श्री अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के कारण मंत्री, नेता प्रतिपक्ष एवं अनेक विधायक पॉजिटिव पाए गए हैं ऐसे में सदन को गरिमा पूर्ण तरीके से संपादित करना प्रत्येक सदस्य की जवाबदेही है l

      श्री अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के कुप्रभाव से बचने के लिए विधानसभा के अंदर तमाम इंतजाम किए गए हैं परंतु फिर भी मंत्री गण, विधायक एवं अधिकारियों की सुरक्षा अत्यंत आवश्यक है।

     श्री अग्रवाल ने विधायकों से अपील करते हुए कहा है कि सदन का सीमित समय होने के कारण आवश्यक काम शांतिपूर्ण तरीके से संपादित हो ऐसा सभी को प्रयास करना चाहिए। अनेक माननीय विधायक गण वर्चुअल भी सदन की कार्यवाही से जुड़ेंगे उन्हें भी समय की मर्यादा को ध्यान में रखकर अपनी बात को संक्षिप्त रूप में सदन तक पहुंचाने होगी ताकि उसका भी समाधान हो सके ।श्री अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के दौरान सरकार द्वारा जारी निर्देशों का सभी लोग पालन करेंगे मैं स्वयं भी देहरादून स्थित अपने शासन के आवास में होम क्वारंटाइन हूं और शीघ्र ही स्वस्थ होकर आप सब लोगों के बीच में पुन: सक्रियता के साथ लौटूंगा।