ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
कविता
April 2, 2020 • Naresh Rohila • सप्तरंग

     राघव का जन्म  

       सुशीला रोहिला ,सोनीपत,हरियााणा   

     

    राम जन्म सुन आई  
     सब मिल दे दो बधाई 
       
     पहली बधाई में हम यह माँगे 
     घर से ना निकले कोई प्राणी 
     तोड़ो ना लाॅकडाउन नर-नारी
    बधाई हो बधाई  हो 

    दूजी बधाई में सब मास्क लगाना 
    रोकथाम कर कोरोना को भगाना
    इस में हम सबकी भलाई 
    बधाई  हो बधाई  हो ।

    तीजी बधाई में हम यह माँगे 
    बार -बार सब हाथ धोएँ
   साबुन जैसा भी हो भाई 
    बधाई हो बधाई  हो ।

   चौथी बधाई में ना मंदिर -मस्जिद जाए
   मनमदिर में ही दीप जलाए 
   राम जन्म की है यह बधाई 
   बधाई हो बधाई हो ।

   पाचवीं बधाई सद्गुरु से माँगे 
  जर्रे- जर्रे में राम को पा ले 
  सेवा भक्ति करें सब कमाई 
  बधाई हो बधाई  हो