ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखकर स्कूल नहीं खोलने की मांग
June 4, 2020 • Naresh Rohila

भारत नमन ब्यूरो /हरिद्वार। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सामाजिक कार्यकर्ता सुनील सेठी ने केंद्र सरकार से मांग करते हुए ग्रह मंत्रालय, पीएमओ ऑफिस, केंद्रीय शिक्षा मंत्री, उत्तराखण्ड शिक्षा मंत्री, राज्य सरकार को पत्र लिखकर मेल किया है। जिसमे मांग की गई है कि जब तक कोरोना समाप्त न हो जाये स्कूल खोलने सम्बंधित कोई भी एडवाइजरी जारी न करें। बच्चों के भविष्य को देखते हुए उनकी सुरक्षा के मद्देनजर अभी कम से कम 6 माह तक स्कूल खुलने नही चाहिए। ज्यादातर अभिवावक अपने बच्चो को स्कूल भेजने के पक्ष में भी नही नजर आ रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से जुलाई अगस्त में स्कूल खुलने के मैसेज मीडिया पर दिखाए जा रहे हैं। जिसका सोशल मीडिया पर लगातार विरोध भी हो रहा है। क्योंकि कुछ स्कूलो को छोड़कर ज्यादातर स्कूल प्रबंधन किसी भी प्रकार से बच्चो की सुरक्षा को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो या सेनेटाइजर की आउटगोइंग इनकमिंग मशीनें हो लगाने में असमर्थ साबित होंगे। छोटे छोटे गली मोहल्लों में छोटी छोटी सी जगहों पर एक क्लास में सीट से ज्यादा बच्चो को पढ़ाने वाले स्कूल कैसे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बच्चो को कोरोना से सुरक्षित रख पाएंगे। बच्चो की रोग प्रतिरोधक क्षमता बड़ो के मुकाबले कम होती है, कोरोना जैसी महामारी से स्कूलो में उन्हें कैसे बचाया जाएगा।सरकारों से निवेदन है कि वो इस पर पुनर्विचार करते हुए आन लाइन पढ़ाई पर ही कोई निर्णय ले।