ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
नंदादेवी राजजात को भित्तिचित्र से प्रदर्शित कराने की पहल पर प्रेमचंद अग्रवाल की सराहना
July 1, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून 1 जुलाई।उत्तराखंड की संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्धन हेतु उत्तराखंड विधानसभा परिसर की बाहरी दीवार पर नंदा देवी राजजात यात्रा को भित्ति चित्र के रूप में प्रदर्शन करने की पहल पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल की हर कोई सराहना कर रहा है।इसी क्रम में श्री नंदा देवी राजजात समिति, नौटी के एक शिष्टमंडल ने विधानसभा अध्यक्ष का आभार व्यक्त करते हुए उनका सम्मान किया।

बता दें कि उत्तराखंड राज्य के अस्तित्व में आने के बाद नंदादेवी राजजात वर्ष 2014 में आयोजित हुई थी।इस एतिहासिक यात्रा को सफलतापूर्वक संपन्न कराने में श्री नंदा देवी राजजात समिति की विशेष भूमिका रही थी। इस समिति के संयोजक प्रचार सचिव शिव पैन्यूली के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने विधानसभा परिसर में श्री अग्रवाल से भेंट की।इस दौरान समिति के सदस्यों द्वारा 2014 की राज जात यात्रा के संस्मरण भी श्री अग्रवाल से साझा किए। इस दौरान राजजात समिति के महामंत्री भुवन नौटियाल ने भी विधानसभा अध्यक्ष को फोन पर अपना आभार व्यक्त किया।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश के सभी जगह से उन्हें शुभकामनाएं प्राप्त होने का मतलब है कि उनका प्रयास सफल हुआ है।श्री अग्रवाल ने कहा की माँ नंदा के आशीर्वाद से उन्हें यह प्रेरणा मिली है।उन्होंने कहा कि नन्दा देवी राजजात एक धार्मिक यात्रा है। यह उत्तराखंड के प्रसिद्ध सांस्कृतिक आयोजनों में से एक है।उन्होंने कहा कि नंदादेवी राजजात यात्रा इस मायने में सुकून पहुंचाती है कि समाज में आज भी बहुत कुछ ऐसा बचा रह गया है जिसे सहेजा जाना चाहिए, जिस पर गर्व किया जा सकता है। इस सांस्कृतिक यात्रा का संरक्षण करना हम सबकी विशेष ज़िम्मेदारी है।

इस अवसर पर समिति के सदस्यों द्वारा विधानसभा अध्यक्ष को धन्यवाद देते हुए कहा गया कि भविष्य में आयोजित होने वाली नन्दादेवी राजजात यात्रा के लिए विधानसभा अध्यक्ष का यह प्रयास भावी पीढ़ी का मार्गदर्शन करेगा और यात्रा को वृहत स्तर पर आयोजित करने के लिए प्रेरित भी करेगा।

इस अवसर पर समिति के संयोजक शिव पैन्यूली, डॉ ताजवर पडियार, नागेंद्र पुरोहित, डॉ एम एस कुंवर, बी एस कुंवर, राजवर पडियार, विष्णु पैन्यूली, डॉ हरीश मैखुरी, ग़ौर सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे।