ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
रक्षा उत्पादों के आयात पर प्रतिबंध के फैसले का स्वागत
August 9, 2020 • Naresh Rohila

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून 9 अगस्त ।रक्षा उत्‍पादन के स्‍वदेशीकरण को बढ़ावा देने के लिए 101 रक्षा उत्‍पादों के आयात पर प्रतिबंध के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह  द्वारा लिए गए फैसले पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने सराहना करते हुए रक्षा मंत्री का आभार व्यक्त किया है।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि रक्षा उपकरणों के उत्पादन में भारत आत्मनिर्भर बने, इसकी जरूरत लम्बे अर्से से महसूस की जा रही थी।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत मिशन में एक कड़ी और जोड़ते हुए रक्षा मंत्री के द्वारा रक्षा उत्‍पादों के आयात पर प्रतिबंध लगाकर रक्षा मंत्रालय को भी स्वदेशीकरण कर आत्मनिर्भर बनाये जाने का मज़बूत क़दम उठाया गया है। श्री अग्रवाल ने कहा कि देश की सेना को और मजबूत बनाने के लिए और समय पर हथियारों की जरूरतों को पूरा करने के मकसद से अब हथियारों के महत्वपूर्ण उपकरणों और कलपुर्जों का निर्माण देश में ही किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि रक्षा का विषय देश की सुरक्षा और संप्रभुता से जुड़ा हुआ है।इस क़दम से आत्मनिर्भर भारत की नींव मजबूत करने का मार्ग प्रशस्त होगा।विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने स्थानीय उत्पादों के इस्तेमाल के साथ ही उन्हें अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाने पर जोर दिया है। इसके लिए उन्होंने ‘वोकल फॉर लोकल’ और ‘लोकल फॉर ग्लोबल’ का मंत्र दिया है। उन्होंने स्वदेशी उत्पाद खरीदने के साथ ही उनका गर्व से प्रचार करने की भी अपील की है। उन्होंने कहा कि इससे न सिर्फ भारत रक्षा जरूरतों के लिहाज से आत्मनिर्भर बनेगा बल्कि निर्यात भी कर सकेगा। 

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि इससे भारत की अपनी घरेलू क्षमता बढ़ने से 'मेक इन इंडिया' को भी बढ़ावा मिलेगा।