ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
संयुक्त चिकित्सालय प्रेमनगर में मरीजों के बेहतर इलाज को इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने के निर्देश
October 16, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

जिलाधिकारी ने ली चिकित्सा प्रबन्धन समिति की बैठक 

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून 16 अक्टूबर। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में राजकीय संयुक्त चिकित्सालय प्रेमनगर की चिकित्सा प्रबन्धन समिति की बैठक आयोजित की गई।

बैठक में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक राजकीय संयुक्त चिकित्सालय प्रेमनगर द्वारा समिति के समक्ष संयुक्त चिकित्सालय से सम्बन्धित आय-व्यय विवरण चिकित्सा-सुविधाओं के विकास के लिए बजट की आवश्यकता, पैशेन्ट्स को दी जा रही चिकित्सा सुविधाओं और चिकित्सा सुविधाओं को बढाने के लिए किए जाने वाले प्रयासों से अवगत कराया। 

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को संयुक्त चिकित्सालय में मरीजों के बेहतर ईलाज के लिए जरूरी इन्फ्रास्ट्रक्चर बढाने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी व मुख्य चिकित्सा अधक्षक कों निर्देश दिए कि अस्पताल में चिकित्सा सुवधिाओं के इन्फ्रास्ट्रक्चर को बढाने के लिए अजीम जी प्रेमजी फांउडेशन, मा0 सांसद और मा0 एंग्लो इण्डियन विधायक से वित्तीय सहयोग की पहल करें।साथ ही जरूरी उपकरण का क्रय कर लें ताकि इलाज में किसी तरह का व्यवधान उत्पन्न ना हो। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए कि जनपद में स्थित सभी छोटे-बडे़ चिकित्सालयों में स्थापित पानी की टंकी की प्रत्येक 6 माह में एकबार सफाई जरूर कराई जाए। उन्होंने इसके अनुपालन हेतु सभी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक और क्षेत्रीय प्रभारी अधिकारियों को सामान्य निर्देश जारी करने को मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया। 

संयुक्त चिकित्सालय के बजट के प्रस्ताव के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने मुख्य कोषाधिकारी को प्रेमनगर चिकित्सालय द्वारा प्रस्तुत बजट के आय-व्ययक व आमद का अवलोकन कर अपनी सिफारिश प्रस्तुत करने के निर्देश देते हुए कहा कि मुख्य कोषाधिकारी की सिफारिश के अनुरूप संयुक्त चिकित्सालय के बजट का अनुमोदन माना जाएगा। 

बैठक में माननीय संासद प्रतिनिधि खेमचन्द्र गुप्ता ने भी अपनी बहुमूल्य सिफारिश समिति को प्रदान की जिस पर जिलाधिकारी ने उचित संज्ञान लेने के समिति को निर्देश दिए। 

बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ अनूप कुमार डिमरी, मुख्य कोषाधिकारी रोमिल चैधरी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक राजकीय संयुक्त चिकित्सालय प्रेमनगर डाॅ उमाशंकर कण्डवाल, सांसद प्रतिनिधि खेमचन्द्र गुप्ता आदि उपस्थित थे।