ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
सीएम ने दी कारगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि
July 26, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। कारगिल विजय दिवस (शौर्य दिवस) पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गांधी पार्क में शहीद स्मारक पर कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

मुख्यमंत्री ने भारतीय सेना के अदम्य साहस व शौर्य को नमन करते हुए  कहा कि उत्तराखण्ड में सैनिकों की वीरता व बलिदान की लम्बी परम्परा रही है। कारगिल युद्ध में बड़ी संख्या में उत्तराखण्ड के सपूतों ने देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहूति दी। 

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि भारतीय सैनिकों ने कारगिल युद्ध में जिस प्रकार की विपरीत परिस्थितियों में वीरता का परिचय देते हुए घुसपैठियों को सीमा पार खदेड़ा, उससे पूरे विश्व ने भारतीय सेना का लोहा माना। कारगिल युद्ध में देश की सीमाओं की रक्षा के लिए वीर सैनिकों के बलिदान को राष्ट्र हमेशा याद रखेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार पूर्व सैनिकों, शहीद सैनिकों के आश्रितों के कल्याण के प्रति वचनबद्ध है।

कारगिल विजय दिवस भारत के शौर्य, पराक्रम और स्वाभिमान का दिन :अनिता ममगाई 

एसके विरमानी /ऋषिकेश। नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने विजयदिवस पर कारगिल शहिदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर उन्होंने ने कहा कि देश को यह ऐतिहासिक विजय इसीलिए मिल पायी थी, क्योंकि सेना ने विपरीत परिस्थितियों में भी पराक्रम दिखाया था। उन्होंने शहीदों के परिजनों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित भी किया।

रविवार को नगर निगम महापौर ने कारगिल युद्व में अपने प्राणों को न्योछावर करने वाले मां भारती के वीर सपूतों को नमन किया।वह सुबह कारगिल युद्व में बलिदान देने वाले ऋषिकेश के अमर शहीद मनीष थापा स्मारक पर पहुंची और यहां स्थित शहीद की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें अपनी श्रद्वांजलि अर्पित की।इसके बाद उन्होंने कैप्टन अमित सेमवाल को श्रद्धांजलि देते हुए उनके नाम पर शीघ्र स्मृति द्वार बनाये जाने की घोषणा की।महापौर ने गुमानीवाला में राइफलमैन शहीद विकास गुरुंग के स्मारक पर पहुंच कर देश के लिए दिए उनके बलिदान को याद किया।वह शहीद हमीर पोखरियाल और शहीद प्रदीप रावत के स्मारक पर भी पहुंची और उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए।

शहीदों को श्रद्वांजलि अर्पित करते हुए महापौर ने कहा कि पाकिस्तान के साथ हुए युद्ध में सैनिकों ने विपरीत परिस्थतियों में भी देश को विजय दिलाने का काम किया था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने करगिल में घुसपैठ कर भारत पर युद्ध थोपा था। भारतीय सैनिकों ने विपरीत परिस्थितियों में अपने पराक्रम का परिचय देते हुए 26 जुलाई को कारगिल विजय दिलाई थी। आज का दिन भारत के शौर्य, पराक्रम और स्वाभिमान का दिन है। अमर शहीद प्रदीप रावत की बच्ची को महापौर ने गोद में बिठाकर प्यार भी किया और शहीदों के परिजनों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया।

श्रद्वांजलि अर्पित करने वालोंं में पार्षद विजेंद्र मोगा, पार्षद राजेंद्र प्रेम सिंह बिष्ट, पार्षद विपिन पंत, पार्षद मनीष मनवाल, पार्षद राकेश मियां, पार्षद अनीता रैना, पार्षद शारदा सिंह, पार्षद उमा राणा, पार्षद अजीत गोल्डी, पार्षद राजेश दिवाकर, पार्षद लता तिवाड़ी, पार्षद राम अवतारी पवार ,पंकज गुप्ता, कपिल गुप्ता,अनीता प्रधान, प्रिया ढकाल, सुनील सुमन, बृजपाल राणा, प्यारेलाल जुगलान, कमलेश जैन विकास सेमवाल, रंजन अंथवाल, सुरेंद्र कैंतूरा, अभिषेक मल्होत्रा,पुष्पा मित्तल,राकेश पाल परीक्षित मेहरा जॉनी लांबा अनिकेत गुप्ता,पवन शर्मा, राजपाल ठाकुर एवं सभी शहीदों के परिवार वाले मौजूद रहे।