ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
श्रीराम कारसेवकों ने इतिहास बनाने का काम किया : सतपाल महाराज
August 16, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

 कैबिनेट मंत्री ने अपने आवास पर किया श्रीराम कार सेवकों का सम्मान  

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। हम सब लोग इतिहास पढ़ते हैं पर कुछ लोग वो होते हैं जो इतिहास लिखते हैं। आप सब लोग इतिहास बनाने वालों में से हैं। आपने राम जन्म भूमि आन्दोलन के दौरान कार सेवा कर एक इतिहास बनाया है। 

यह बात आज यहां श्री राम जन्म भूमि आन्दोलन से जुड़े श्रीराम कार सेवकों को सम्बोधित करते हुए एक कार्यक्रम के दौरान प्रदेश के धर्मस्व, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने कही। 

श्रीराम जन्म भूमि आन्दोलन में सक्रिय भागीदारी निभाने वाले श्रीराम कार सेवकों के सम्मान हेतु आज एक कार्यक्रम का आयोजन प्रदेश के धर्मस्व, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री  सतपाल महाराज के सुभाष रोड़ स्थित आवास पर आयोजित किया गया जिसमें प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आये श्रीराम कार सेवकों ने प्रतिभाग करने के साथ-साथ अपने संस्मरण भी सुनाये। श्रीराम कार सेवक मिलन कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करते हुए प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि आपने श्रीराम जन्म भूमि आन्दोलन के दौरान कार सेवा करके श्रीराम मन्दिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त कर इतिहास बनाया है  जिसे भावी पीढी आगे चलकर  पढेगी। श्री महाराज ने कहा कि श्रीराम की अगाध शक्ति है। श्रीराम सारी सम्भावनाओं को लेकर पैदा हुए हैं। मनुष्य जहां तक पहुंच सकता है मानव से लेकर अध्यात्म तक सारी शक्तियों को लेकर श्रीराम पैदा हुए हैं। श्रीराम का चरित्र निर्विकार, निष्छल, एवं सकारात्मकता से परिपूर्ण रहा है। श्री महाराज ने कहा कि जब श्रीराम आयोध्या की सीमा को पार करके आगे बढ़ते हैं तो राम का रूपान्तरण हो जाता है, वह इतनी सक्षमता पाते हैं कि वह सुग्रीव को गले लगाते हैं, हनुमान को प्रेम करते हैं, केवट और सबरी को ह्दय से लगाते हैं। इससे स्पष्ट है कि निश्चित रूप से भगवान श्रीराम अपने आप में बहुत ही शक्तिबद्ध हैं। श्री महाराज ने कहा की आप सभी के प्रयासों और संघर्षों के परिणाम स्वरूप आज श्रीराम जन्म भूमि पर भव्य श्रीराम मन्दिर का निर्माण सम्भव हो पाया है। इसके लिये सभी बधाई के पात्र हैं। 

कार सेवकों को सम्बोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  बंशीधर भगत ने कहा की निश्चित रूप से श्रीराम मन्दिर विश्व में एक इतिहास बनेगा। आप सभी की त्याग और तपस्या के परिणाम स्वरूप शीघ्र की हमें भव्य श्रीराम मन्दिर के साक्षात दर्शन हो पायेंगे। 

विश्व हिन्दू परिषद् के राष्ट्रीय मंत्री  रविदेव आनन्द ने  कहा कि सभी कार सेवकों ने श्रीराम जन्म भूमि आन्दोलन में बढ़ चढ कर भाग लिया था जिसके कारण आज यह कार्य सम्भव हो पाया है। उक्त मौके पर पूर्व मंत्री एवं विधायक हरवंश कपूर ने भी अपने विचार रखे। 

कार सेवक मिलन कार्यक्रम में प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आये श्रीराम कार सेवकों को कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज एवं पूर्व मंत्री श्रीमती अमृता रावत ने श्रीराम जन्म भूमि का चित्र एवं अंग वस्त्र भेंट कर सम्मानित किया। 

कार्यक्रम में  लाखीराम जोशी, नरेश बंसल,  अजय जोशी, राधे श्याम ममगांई,  राजेन्द्र पन्त,  कैलाश पन्त,  प्रवीन जैन,  राजकुमार टांक, भास्कर नैथानी, सुधीर कुमार,  महेन्द्र सिंह नेगी, दिनेश रावत, आदि ने राम मन्दिर आन्दोलन से जुड़े संस्मरण सुनाकर पूरे माहौल को राममय कर दिया। श्रीराम कार सेवक मिलन में  शशिकान्त गोयल,  पुनीत मित्तल, श्री नन्द किशोर, श्री हरीश काम्बोज, श्री लक्ष्मण नवानी,  बालेश्वर पाल, शम्भू प्रसाद भट्, रोशन लाल थपलियाल,  मूरत राम शर्मा,  विजय कोहली, विनोद शर्मा,  बलवन्त बोहरा,  अभिमन्यु कुमार,  तरूण,  हेमन्त थपलियाल,  विजय शर्मा,  राकेश कुकरेती, नन्द किशोर, अजय जोशी,  विवेक शर्मा, भरत सिंह नेगी, हेमन्त उपाध्याय,  विपिन राणा,  उदयपाल नेगी, भगत सिंह रावत आदि अनेक कार सेवकों को सम्मानित किया गया। 

कार्यक्रम आयोजन समिति के सदस्य  दिगम्बर नेगी ने उपस्थित सभी कार सेवकों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन आयोजन समिति के सदस्य ऋषिराज डबराल ने  किया ।