ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
श्रीराम मंदिर शिलान्यास अवसर पर वितरित प्रसाद विस अध्यक्ष को भेंट किया
August 10, 2020 • Naresh Rohila

एसके विरमानी /ऋषिकेश 10 अगस्त l अयोध्या में भगवान श्री रामचंद्र के मंदिर का शिलान्यास विगत दिनों  प्रधानमंत्री के नेतृत्व में संपन्न हुआ । इस शिलान्यास के दौरान संपूर्ण भारत से 175 लोगों ने प्रतिभाग किया था ऋषिकेश से इस शिलान्यास कार्यक्रम में विशेष आमंत्रण पर जगद्गुरु स्वामी श्री कृष्णणाचार्य जी महाराज परमाध्यक्ष श्री कृष्ण कुंज भी उपस्थित हुए , उन्होंने आज विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेम चंद अग्रवाल जी को अयोध्या से लाया गया महाप्रसाद भेंट किया । बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर श्री कृष्ण कुंज आश्रम के उत्तराधिकारी स्वामी गोपालाचार्य जी महाराज एवं पंडित रवी शास्त्री जी ने विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल को अयोध्या से लाया हुआ महा प्रसाद भेंट गया ।प्रसाद ग्रहण करते ही विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल की आंखें नम हुई और भाव विभोर होते हुए कहा है कि यह मेरे जीवन में सबसे खुशी का पल है।

      श्री अग्रवाल ने कहा है कि हम अयोध्या में भगवान रामचंद्र जी के दिव्य व भव्य मंदिर के शिलान्यास के अवसर पर भले ही उपस्थित नहीं हो सके परंतु श्री राम मंदिर के शिलान्यास के अवसर पर वितरित किया गया प्रसाद प्राप्त कर मुझे अपार खुशी एवं संतोष हो रहा है।ज्ञात हो कि श्री राम जन्मभूमि आंदोलन के लिए विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचंद अग्रवाल जी का संपूर्ण परिवार ने सक्रियता के साथ अपना योगदान दिया था।

       उन्होंने कहा है कि श्री राम मंदिर शिलान्यास के अवसर पर भारतवर्ष के 175 प्रमुख उच्च कोटि के संतो ने प्रतिभाग किया वही ऋषिकेश से भी संतों को शिलान्यास कार्यक्रम पर आमंत्रित किया गया था । आज जगतगुरु स्वामी कृष्णाचार्य जी महाराज के माध्यम से अयोध्या से लाया गया महाप्रसाद मुझे स्वामी गोपालाचार्य जी एवं पंडित रवी शास्त्री जी के माध्यम से प्राप्त हुआ जो मेरे लिए परम सौभाग्य का विषय है  श्री अग्रवाल ने कहा है कि लंबे संघर्षों के बाद अयोध्या में बनने वाला भगवान श्री रामचंद्र  का दिव्य एवं भव्य मंदिर भारत वासियों के साथ-साथ संपूर्ण विश्व के लिए आध्यात्मिक आकर्षण का केंद्र होगा ।

 इस अवसर पर स्वामी गोपालाचार्य जी महाराज ने कहा है कि अयोध्या से लाया गया महा प्रसाद उन्हीं लोगों को भेंट किया जा रहा है जिन्होंने श्री राम जन्मभूमि आंदोलन के लिए संघर्ष किया , यातनाएं झेली एवं महत्वपूर्ण सहयोगी रहे हैं । उन्होंने कहा कि शुद्ध रूप से गाय के घी से बने हुए प्रसाद के लड्डू माला एवं श्री रामचंद्र के निर्मित मंदिर वाला बैनर महाप्रसाद के रूप में भेंट किया गया गया है।