ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
स्वतंत्रता दिवस पर पूरी आन बान शान से लहराया तिरंगा
August 15, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

 

राज्यस्तरीयसमारोह

सीएम रावत ने पुलिस लाइन में किया ध्वजारोहण 

भराड़ीसैंण के लिए तोहफों की बारिश 

कोरोना वारियर्स को किया सम्मानित 

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। 74 वें स्वतंत्रता दिवस पर हमारी आन और बान का प्रतीक तिरंगा पूरी शान के साथ देश और दुनिया में लहराया। प्रदेश में राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह यहां पुलिस लाइन में आयोजित हुआ जिसमें मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने ध्वजारोहण किया। 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पुलिस लाईन देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया। उन्होंने कोरोना वारियर्स को सम्मानित भी किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने गैरसैंण के लिए 12 घोषणाएं की। जिसमें सी.एच.सी गैरसैंण में 50 बेडेड सब डिस्ट्रिक्ट हाॅस्पिटल की स्थापना की जायेगी। हाॅस्पिटल में टेली मेडिसन की सुविधा प्रदान की जायेगी। भराड़ीसैंण विधानसभा परिसर में मिनी सचिवालय की स्थापना की जायेगी। भराड़ीसैंण क्षेत्र में पम्पिंग पेयजल लाईन का निर्माण कराया जायेगा। भराड़ीसैंण-गैरसैंण में साइनेजेज लगाये जायेंगे। भराड़ीसैंण-गैरसैंण क्षेत्र में जियो ओएफसी, नेटवर्किंग का विस्तारीकरण कार्य कराया जायेगा। लोक निर्माण विभाग निरीक्षण भवन, गैरसैंण में 08 कमरों के निर्माण की स्वीकृति दी जायेगी। गैरसैंण ब्लाॅक में कृषि विकास हेतु कोल्ड स्टोरेज एवं फूड प्रोसेसिंग प्लांट की स्थापना की जायेगी। बेनीताल का एस्ट्रो विलेज के रूप में विकास किया जायेगा। भराड़ीसैंण में ईको ट्रेल/ईको पार्क की स्थापना की जायेगी। जीआईसी भराड़ीसैंण में 02 अतिरिक्त कक्षा कक्ष का निर्माण किया जायेगा। राजकीय आईटीआई गैरसैंण का भवन निर्माण एवं उपकरणों हेतु धनराशि स्वीकृत की जायेगी।   

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने आजादी की 73 वीं वर्षगांठ पर सभी प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने देश के लिये अपना सर्वस्व बलिदान करने वाले, सभी स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों और सैन्य व अर्धसैन्य बल के शहीद जवानों और अमर शहीदों और आंदोलनकारियों नमन किया। उन्होंने कहा कि इस बार के स्वतंत्रता दिवस पर परिस्थितियां बहुत अलग हैं। पूरा देश, प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वैश्विक महामारी कोविड-19 से लड़ रहा है। प्रधानमंत्री  ने देश हित में सही समय पर साहसिक फैसले लिए, जिससे यह महामारी नियंत्रित अवस्था में है।अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए माननीय प्रधानमंत्री जी ने 20 लाख करोड़ रूपए का पैकेज दिया है। इसमें मजदूरोें, गरीबों, किसानों, व्यापारियों, उद्यमियों सभी वर्गों के हितों का ध्यान रखा गया है। 

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रदेशवासियों की भावना का सम्मान करते हुए राज्य सरकार ने गैरसैंण को उत्तराखण्ड की ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया है। इसकी विधिवत अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। अब गैरसैण में राजधानी के अनुरूप आवश्यक सुविधाओं के विकास की कार्ययोजना बनाई जा रही है। पिछले वर्ष 36 लाख श्रद्धालु चारधाम यात्रा पर आए। इसलिए भविष्य की आवश्यकताओं, श्रद्धालुओं की सुविधाओं और इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास की दृष्टि से चारधाम देवस्थानम बोर्ड का गठन किया गया है। उत्तराखण्ड में सभी के सहयोग से कोविड-19 से लड़ाई लड़ी जा रही है। परिस्थितियों के अनुसार निर्णय ले रहे हैं। सर्विलांस, सेम्पलिंग, टेस्टिंग पर फोकस किया जा रहा है। राज्य में पर्याप्त संख्या में कोविड अस्पताल, आइसोलेशन बेड, आईसीयू बेड, आक्सीजन सपोर्ट बेड और वेंटिलेटर उपलब्ध हैं। आज राज्य के सभी जनपदों में आई0सी0यू0, वेंटिलेटर और आक्सीजन सपोर्ट सिस्टम की व्यवस्था है। देहरादून, श्रीनगर, अल्मोड़ा, हल्द्वानी, रुद्रपुर के बाद अब हरिद्वार और पिथौरागढ़ में भी मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं। पिछले लगभग तीन साल में पर्वतीय क्षेत्रों में डाक्टरों की संख्या पहले से लगभग ढाई गुनी की जा चुकी है। टेलीमेडिसीन और टेलीरेडियोलोजी भी लाभदायक साबित हो रही हैं। ग्राम स्तर पर स्वास्थ्य उपकेंद्रों का हैल्थ एंड वैलनैस सेंटर के रूप अपग्रेडेशन किया जा रहा है। 

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष  प्रेमचन्द अग्रवाल, मेयर  सुनील उनियाल गामा, विधायक खजानदास,  विनोद चमोली, मुख्य सचिव  ओम प्रकाश, डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी एवं अन्य गणमान्य उपस्थित थे। 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इससे पूर्व मुख्यमंत्री आवास में ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर उन्होंने राष्ट्रीय एकता की सपथ भी दिलाई। 

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने बलवीर रोड स्थित भाजपा कार्यालय में ध्वजारोहण कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष  वंशीधर भगत, सांसद तीरथ सिंह रावत, विधायक  हरवंश कपूर आदि उपस्थित थे। 

भराड़ीसैंण विधानसभा परिसर में तिरंगा फहराया 

इसके साथ ही  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण (भराडीसैंण) विधानसभा परिसर में स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण कर स्वर्णिम इतिहास रचा। यह पहला मौका है जब प्रदेश के किसी मुख्यमंत्री ने गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित होने के बाद स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल विधानसभा उपाध्यक्ष  रघुवीर सिंह चौहान सहित क्षेत्रीय विधायक  सुरेंद्र सिंह नेगी थराली विधायक श्रीमती मुन्नी देवी शाह व गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

76 करोड़ से अधिक की योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 76 करोड़, 67 लाख, 65 हजार की विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकापर्ण करते हुए जनपदवासियों को बडी सौगात भी दी।

उल्लेखनीय है कि विधानसभा बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 4 मार्च, 2020 को सदन में बजट पेश करने के तुरंत बाद गैरसैंण (भराडीसैंण) को प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किया था। ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित करने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री ने भराडीसैंण पहुॅचकर स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण किया। उन्होंने कहा कि जनभावनाओं के अनुरूप ही राज्य में विकास कार्यो को आगे बढाने के लिए उनकी सरकार संकलपबद्व है।

स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री ने भराडीसैंण विधानसभा परिसर में 6071.82 लाख की विकास योजनाओं का शिलान्यास तथा 1595.83 लाख की योजनाओं का लोकार्पण किया। जिन योजनाओं का शिलान्यास किया गया उनमें कर्णप्रयाग विधानसभा क्षेत्र में बुंगीधार-मेहलचैरी-बछुवाबाण मोटर मार्ग के किमी 51 मे डामरीकरण व सुधारीकरण लागत 60 लाख, गैरसैंण में पुनगांव-विषौणा मोटर मार्ग सुधारीकरण व डामरीकरण लागत 312.93 लाख, गोपेश्वर में ईवीएम वेयर हाउस का निर्माण लागत 223.31 लाख, पोखरी के विनायकधार में स्व0  नरेन्द्र सिंह भण्डारी की मूर्ति स्थापना एवं पार्क विकास निर्माण कार्य लागत 14.30लाख, भराडीसैंण में हैलीपैड निर्माण लागत 216.76 लाख, राइका थिरपाक में भौतिक, रसायन व जीवविज्ञान प्रयोगशाला निर्माण लागत 82.02 लाख, हाईस्कूल पुडियाणी में रमसा के तहत विविध कार्य लागत 74.14 लाख, गैरसैंण में अक्षयबाडा पेयजल योजना लागत 83.53 लाख, सारिगंगाव ग्राम समूल पेयजल योजना लागत 94.79 लाख, टंगणी तल्ली से टंगणी मल्ली तक मोटर मार्ग लागत 260.46, कुहेड मैठाणा से रोपा चलधर मोटर मार्ग निर्माण लागत 441.58लाख, कुहेड-मैठाणा पलेठी-सरतोली-मथरपाल-नैथोली मोटर मार्ग लागत 989.23 लाख, मारवाडी-थेंग मोटर मार्ग लागत 813.08 लाख, मारवाडी-पुलना मोटर मार्ग 673.50 लाख, बूंगीधार-मैहलचैरी-बछुवाबाण मोटर मार्ग के किमी 12 से कोलानी मोटर मार्ग लागत 296.69 लाख, रोहिडा-पज्याणा मोटर मार्ग लागत 353.09 लाख, गौचर-ढमढमा मोटर मार्ग लागत 806.04 लाख, नन्द्रप्रयाग-घाट मोटर मार्ग के किमी 11 से मंगरोली मोटर मार्ग 182.44 लाख तथा घाट-थराली मोटर मार्ग के किमी 10 से स्यारी मोटर मार्ग लागत 108.23 लाख शामिल है।

जिन योजनाओं को लोकापर्ण किया गया उनमें जिलासू-उत्तरौं मोटर मार्ग डामरीकरण कार्य लागत 185.06 लाख, गैरसैंण में क्रीडा स्थल का विस्तारीकरण तथा विकास कार्य लागत 65.81 लाख, कर्णप्रयाग में बाला से सिरकोट मोटर मार्ग नवनिर्माण लागत 65.81 लाख, आदिब्रदी-नौटी से काॅसुवा होते हुए चांदपुर गढी तक नवनिर्माण कार्य लागत 250.64 लाख, चेपडो गधेरे में लौह सेतु का निर्माण लागत 214.89 लाख, राइका कुराड में कम्प्यूटर, पुस्तकालय एवं आर्ट क्राफ्ट भवन निर्माण लागत 50.46 लाख, राउमावि कण्डवाल में कम्प्यूटर, पुस्तकालय एवं आर्ट क्राफ्ट भवन निर्माण लागत 55.25 लाख, राउमावि सणकोट मे प्रयोगशाला, कम्प्यूटर, पुस्तकालय एवं आर्ट क्राफ्ट भवन निर्माण लागत 74.94 लाख, गैरोली-मल्ली ग्राम समूह पेयजल योजना लागत 154.77 लाख, हेलंग-ल्यारी-उगर्म मोटर मार्ग स्टेज2 लागत 225.35 लाख तथा गीबर से पैब मोटर मार्ग शामिल है।

मुख्यमंत्री  ने कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज लिए भराडीसैंण में से बनाए गए कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण कर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। 

प्रेमचंद अग्रवाल ने विधानसभा में किया ध्वजारोहण 

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा भवन देहरादून में 74 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचंद अग्रवाल ने ध्वजारोहण किया व राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी। इस अवसर पर रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ भी मौजूद थे। विधानसभा अध्यक्ष ने इस अवसर पर स्वतंत्रता संग्राम में आहुति देने वाले तमाम वीर सपूतों एवं शहीद हुए वीर सैनिकों तथा उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारियों को नमन करते हुए उनकी शहादत को याद किया।

शहीदों और राज्य आन्दोलनकारियो को नमन

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि गैरसेंण ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित होने के बाद पहली बार भराडीसैंण विधानसभा में उनके उनके एवं मुख्यमंत्री  द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया जा रहा है। श्री अग्रवाल ने आह्वान किया की देवभूमि उत्तराखंड को चौमुखी विकास की ओर ले जाने के लिए हम सब संकल्प लें यही शहीद राज्य आंदोलनकारियों के लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

इस अवसर पर विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल, वरिष्ठ निजी सचिव अजय अग्रवाल, सुरक्षा अधिकारी प्रदीप गुणवंत, उपसचिव चंद्र मोहन गोस्वामी, अनु सचिव नरेंद्र रावत सहित अन्य अधिकारी गण कर्मचारी एवं पुलिस के जवान मौजूद थे।इससे पूर्व विधानसभाध्यक्ष ने यमुना कॉलोनी स्थित अपने शासकीय आवास पर भी ध्वजारोहण किया।

ऋषिकेश महापौर ने फहराया तिरंगा 

एसके विरमानी /ऋषिकेश। कोरोना संकटकाल के चलते देशभर के साथ तीर्थ नगरी ऋषिकेश में भी आजादी का जश्न बेहद सादगी पूर्ण तरीके से मनाया गया। स्वतंत्रता दिवस समारोह के मौके पर शहर में विभिन्न स्थानों पर ध्वजारोहण किया गया। जिसका प्रमुख केंद्र नगर निगम रहा निगम प्रांगण में महापौर अनिता ममगई.ने देश की आन बान और शान का प्रतीक तिरंगा लहराया।

शनिवार को नगर निगम प्रांगण में स्वतंत्रता दिवस सादगी के साथ मनाया गया। महापौर अनिता ममगाईं और मुख्य नगर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल ने शहीद स्मारक पर शहीद स्तंभ और शहीद-ए-आजम सरदार भगत सिंह की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। इसके बाद यहां ध्वजारोहण किया गया। इस दौरान महापौर ने देश की एकता और अखंडता का संकल्प दिलाते हुए कहा कि देश वर्तमान में कोरोना संक्रमण को देखते हुए विपरीत परिस्थितियों से गुजर रहा है। प्रत्येक नागरिक को ऐसे समय में अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी।अपने सम्बोधन में उन्होंने शहर की जनता से शारीरिक दूरी का पालन करने के साथ मास्क का प्रयोग करने की अपील भी की। इस अवसर पर पार्षद लता तिवारी, रीना शर्मा, राधा रमोला, राकेश सिंह मियां, भगवान सिंह पवार, पर्यावरण विद विनोद जुगलान आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम के समापन पर नगर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल ने उपस्थिति का आभार जताया।

प्रेस क्लब ने भी मनाया स्वतंत्रता दिवस 

देहरादून।  स्वाधीनता दिवस पर उत्तरांचल प्रेस क्लब में झंडारोहण कार्यक्रम हुआ। ध्वजारोहण अध्यक्ष देवेंद्र सती व महामंत्री संजीव कंडवाल ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर हरीश जोशी, इन्द्रेश कोहली, अभिषेक मिश्रा, केदार दत्त, मानव भंडारी,  नवीन थलेड़ी, जितेंद्र अंथवाल, गिरिधर शर्मा, शिव पैन्यूली, दिनेश कुकरेती, अजय राणा, देवेंद्र नेगी, अंकित चौधरी, केएस बिष्ट, चांद मोहम्मद, मंजुल सिंह माजिला, दीपक बड़थ्वाल, प्रवीण डंडरियाल, तिलक राज  आदि मौजूद रहे।