ALL करंट अफेयर्स राजनीति क्राइम खेल धर्म-संस्कृति हेल्थ खरीदारी-सिफारिश बातचीत सप्तरंग
उत्तराखंड में आज फिर कोरोना मरीजों का सैंकड़ा, देहरादून में 52
July 15, 2020 • Naresh Rohila • करंट अफेयर्स

भारत नमन ब्यूरो /देहरादून। उत्तराखण्ड में आज फिर कोरोना मरीजों का सैकड़ा।

प्रदेश भर में कुल 104 मरीज आये। आंकडा पहुंचा 3785 पर।

अब राज्य में 50 लोगों की हो चुकी है मौत। 

 2948 मरीज अब तक ठीक हुए। वर्तमान में 754 एक्टिव मरीज। 

आज देहरादून जनपद में आयी सबसे ज्यादा 52 लोगों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पाजीटिव। 

नैनीताल में मिले 24 कोरोना पाजीटिव। 

6924 सैंपल की रिपोर्ट प्रतीक्षारत है 

 देहरादून जनपद में ये इलाके कंटेनमेंट जोन घोषित  इस बीच जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि तहसील विकासनगर क्षेत्रान्तर्गत स्थित शिवनगर बस्ती सेलाकुई एवं वार्ड न0-8 जमनीपुर माजरा बरोटीवाला में कोरोना संक्रमित व्यक्ति चिन्हित होने के फलस्वरूप सुरक्षात्मक उपाय अपनाते हुए क्षेत्रों को कन्टेंनमेंट जोन घोषित किया गया है, जिसमें शिवनगर बस्ती सेलाकुई का वह हिस्सा जिसके पूरब दिशा में श्री रमेश के घर से मन्दिर तक, पश्चिम दिशा में मन्दिर से सितारा के घर तक, उत्तर दिशा में मन्दिर से रमेश के घर तक तथा दक्षिण में जोगी के घर से रमेश के घर तक अवस्थित हो को कन्टेंमेंट जोन घोषित किया गया है।

इसी प्रकार वार्ड न0-8 ग्राम जमनीपुर बरोटीवाला का वह हिस्सा जिसके पूरब दिशा में  ज्ञान सिंह,  रमेश आदि की कृषि भूमि तक, पश्चिम दिशा में शिव मन्दिर तक, उत्तर दिशा में बरोटीवाला रोड़ तक तथा दक्षिण दिशा में बाबू सिंह, मेहर सिंह आदि की कृषि भूमि तक अवस्थित है को कन्टेंनमेंट जोन घोषित किया गया है। 

कोरल लेबोरेट्री सील

कोरल लेवोरेट्री लि0 सेलाकुई बीटा लैक्टम प्लान्ट में कार्यरत 9 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाये जाने के उपरान्त उप जिलाधिकारी विकासनगर की संस्तुति के क्रम में कोविड-19 की रोकथाम हेतु कोरल लेवोरेट्री लि0 कम्पनी को अग्रिम आदेशों तक सील/बन्द किये जाने के आदेश दिये गये हैं। आदेशों का उल्लंघन की दशा में सम्बन्धित के विरूद्ध महामारी अधिनियम, आपदा प्रबन्धन अधिनियम में वर्णित प्राविधानों के अनुसार कार्यवाही की जायेगी।

डोईवाला का तेलीवाला कंटेनमेंट जोन से मुक्त 

जिलाधिकारी के अनुसार डोईवाला क्षेत्रान्तर्गत वार्ड -15 तेलीवाला में करोना संक्रमित व्यक्ति चिन्हित होने के फलस्वरूप उक्त क्षेत्र को लाॅकडाउन किया गया था, उक्त क्षेत्र में 28 दिनों तक एक्टिव सर्विलांस के उपरान्त कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति नही पाये गये। मुख्य चिकित्साधिकारी देहरादून की संस्तुति के उपरान्त उक्त क्षेत्र को कन्टेंमेंट जोन से मुक्त किया गया है।